क्या Smartwatch बन सकती है सिर दर्द का कारण? जानें हकीकत

Smartwatch Side Effects: आज के दौर में बाजार में उपलब्ध अधिकतर स्मार्टवॉच कंपनियां इसके जरिए यूजर्स की हेल्थ को मॉनिटर करने का दावा करती हैं. स्मार्टवॉच के तमाम फायदों के बारे में आपने सुना भी होगा, लेकिन कई लोग मानते हैं कि इसका इस्तेमाल करने से आपकी हेल्थ को नुकसान हो सकता है. अगर आपने भी ऐसा सुना है तो आपको इसकी सच्चाई बताने जा रहे हैं. 

कैसे हेल्थ को प्रभावित करती है स्मार्टवॉच? 
सबसे पहले यह जानना जरूरी है कि स्मार्टवॉच में आखिर ऐसा क्या होता है जो आपकी हेल्थ के लिए खतरा पैदा कर सकता है. जानकारों की मानें तो स्मार्टवॉच इलेक्ट्रोमैग्नेटिक फील्ड रेडिएशन उत्पन्न करती है, जो हमारे शरीर के लिए अच्छा नहीं होता. ऐसे में लंबे समय तक स्मार्टवॉच पहनने से बचना चाहिए. बड़ी संख्या में लोग अपनी स्लीपिंग साइकिल को मॉनिटर करने के लिए स्मार्टवॉच पहनकर सोते हैं. इसके अलावा दिन भर भी वे स्मार्टवॉच पहने रहते हैं. 

क्या स्मार्टवॉच बन सकती है सिर दर्द की वजह? 
अगर आप स्मार्टवॉच को 24 घंटे पहने रहेंगे, तो उससे निकलने वाली रेडिएशन से आपको सिर दर्द की समस्या हो सकती है. कई लोग मानते हैं कि सोते वक्त स्मार्टवॉच पहनकर वे अपनी स्लीपिंग साइकिल को मॉनिटर करते हैं, लेकिन इसके बजाय स्मार्टवॉच को देर रात तक देखने से आपकी नींद का रुटीन बिगड़ जाता है. अगर आपकी नींद पूरी नहीं होगी, तो इससे मूड स्विंग की परेशानी भी हो सकती है. 

हो सकती है डिस्मोरफ़िया की समस्या
अगर आप अपनी स्मार्टवॉच को बार-बार देखते हैं, तो उससे आप किसी काम पर फोकस नहीं कर पाते. इस परेशानी को डिस्मोरफ़िया कहते हैं. इस तरह की परेशानी से बचने के लिए आपको स्मार्टफोन, स्मार्टवॉच या अन्य गैजेट्स को बार बार देखने की आदत छोड़नी होगी. वैसे भी इस तरह की आदत आपकी प्रोफेशनल लाइफ के लिए भी अच्छी नहीं होती. 

यह भी पढ़ेंः WhatsApp vs Telegram: फीचर्स, सुरक्षा और प्राइवेसी के मामले में कौन-सा ऐप है बेहतर, जानें फुल डिटेल

AuthenticCapitalstore

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *