French Open 2021: राफेल नडाल ने मानी गलती, कहा- हार के लिए कोई बहाना नहीं

फ्रेंच ओपन 2021 में शुक्रवार को वर्ल्ड नंबर वन नोवाक जोकोविच और लाल बजरी के बादशाह राफेल नडाल के बीच बेहद ही शानदार मुकाबला देखने को मिला. सेमीफाइनल मुकाबले में हालांकि जोकोविच ने नडाल को मात देकर खिताब की ओर एक कदम और आगे बढ़ा लिया. जोकोविच के हाथों हार का सामना करने वाले वर्ल्ड नंबर-3 स्पेन के राफेल नडाल ने कहा है कि इस हार के लिए उनके पास कोई बहाना नहीं है. 

राफेल नडाल ने कहा कि वह अपनी गलती के कारण ही हारे हैं. जोकोविच ने 13 बार के चैंपियन नडाल को चार सेटों तक चले मुकाबले में नडाल को 3-6, 6-3, 7-6(4), 6-2 से मात दी. सर्बियाई खिलाड़ी ने चार घंटे और 22 मिनट तक चले मुकाबले में जीत अपने नाम की.

फ्रेंच ओपन में 105-2 (जीत-हार) का रिकॉर्ड रखने वाले नडाल का इससे पहले जोकोविच के खिलाफ 7-1 का रिकॉर्ड था. फाइनल में अब जोकोविच का सामना ग्रीस के स्टेफानोस सितसिपास से होगा, जिन्होंने इस साल केवल एक ही सेट गंवाया है.

फ्रेंच ओपन में सिर्फ तीन बार हारे हैं नडाल

नडाल के मैच के बाद कहा, “यही खेल है. कभी आप जीतते हैं तो कभी आप हारते हैं. मैंने अपना बेस्ट देने की कोशिश की. मैं उन मौकों को भुनाने में असफल रहा, जोकि मुझे मिला.”

नडाल ने आगे कहा, ” मेरे पास तीसरे सेट में सेट प्वाइंट, 6-5, सेकेंड सर्व के साथ एक बड़ा मौका था. बस इतना ही. उस समय कुछ भी हो सकता था. फिर मैंने डबल फॉल्ट किया, टाई-ब्रेक में आसान से चूक गया. लेकिन यह सच है कि टनिर्ंग प्वाइंट था. थकान के कारण इस तरह की गलतियां हो सकती है.”

जोकोविच इससे पहले 2015 के क्वार्टर फाइनल में भी नडाल को हरा चुके थे. 2005 में अपना पहला फ्रेंच ओपन और 2020 में अपना आखिरी फ्रेंच ओपन खिताब जीतने वाले नडाल इस दौरान अब तक केवल तीन ही बार इस टूनार्मेंट हारे हैं.

नस्लभेदी टिप्पणी मामले में बुरे फंसे बटलर और मोर्गन, BCCI ने कड़ी कार्रवाई के संकेत दिए

AuthenticCapitalstore

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *