पिता की मौत के बाद होटल के कमरे में रो रहे थे मोहम्मद सिराज, तभी विराट ने पास आकर कही थी ये बात

<p style="text-align: justify;">मोहम्मद सिराज की गेंदबाजी में पिछले कुछ वक्त से लगातार सुधार हो रहा है. सिराज ने ऑस्ट्रेलिया दौरे पर शानदार प्रदर्शन कर सभी का दिल जीत लिया था. सिराज ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ चार मैचों की सीरीज के दूसरे टेस्ट में भारत के लिए डेब्यू किया. भारत के मुख्य तेज गेंदबाजों के चोटिल होने के कारण सिराज ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ तीन टेस्ट मैच खेले. उन्होंने टीम प्रबंधन के फैसले को सही साबित किया वह 13 विकेट लेकर भारत के लिए सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज बन गए. दाएं हाथ के इस गेंदबाज ने इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 14 वें सीजन में भी शानदार गेंदबाजी की और डेथ ओवर्स में ना केवल कम रन दिये बल्कि विकेट भी चटकाए.</p>
<p style="text-align: justify;">हालांकि, सिराज के लिये ऑस्ट्रेलियाई दौरा इतना आसान नहीं रहा. क्योंकि उस सीरीज के दौरान उनके पिता का निधन हो गया था. उन्होंने अपने परिवार के साथ रहने के लिए भारत वापस आने के बजाय भारतीय टीम के साथ रहने का कठोर निर्णय लिया. जिसकी दुनिया भर के क्रिकेटर्स ने प्रशंसा की. मुश्किल दौर के बारे में बात करते हुए, सिराज ने खुलासा किया कि वह अपने होटल के कमरे में रोते थे. उस समय में भारतीय कप्तान विराट कोहली थे जो उनके साथ खड़े थे और उन्हें प्रेरित करने के लिए हमेशा मौजूद थे. 27 वर्षीय ने कहा कि कोहली ने उनका हमेशा सपोर्ट किया और उनका करियर बनाने में मदद की.</p>
<p style="text-align: justify;"><strong>विराट कोहली ने मुझे ताकत और समर्थन दिया: मोहम्मद सिराज</strong><br />अंग्रेजी वेबसाइट टाइम्स ऑफ इंडिया से बातचीत के दौरान सिराज ने कहा कि विराट कोहली हमेशा मेरे लिए सभी परिस्थितियों में खड़े रहे. मुझे आज भी याद है कि मैं होटल के कमरे में कैसे रोता था. विराट ‘भैया’ मेरे कमरे में आए और मुझे कसकर गले लगाया और कहा – ‘मैं तुम्हारे साथ हूं, चिंता मत करो.’ सिराज ने कहा कि उन शब्दों ने मुझे बहुत प्रोत्साहित किया. विराट ने ऑस्ट्रेलियाई दौरे पर केवल एक टेस्ट खेला. लेकिन उनके मैसेज और कॉल ने मुझे प्रेरित किया. वास्तव में, पिछले दो वर्षों में RCB के साथ मेरा सीजन अच्छा नहीं रहा. लेकिन वह (विराट) हमेशा मेरा समर्थन करने के लिए वहां मौजूद थे. उन्होंने मेरा बहुत समर्थन किया है.</p>
<p style="text-align: justify;">दाएं हाथ के गेंदबाज ने कहा कि मैंने ऑस्ट्रेलिया सीरीज के दौरान अपने पिता को खो दिया था. मैं बिखर गया था और वास्तव में मैं होश में नहीं था. यह विराट भैया ही थे जिन्होंने मुझे ताकत और समर्थन दिया. मेरा करियर विराट ‘भैया’ की वजह से है.</p>
AuthenticCapitalstore

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *