IND vs ENG: पुणे में इंडिया ने खेली जीत की होली, रोमांचक मुकाबले में इंग्लैंड को चटाई धूल

India vs England 3rd ODI: भारत और इंग्लैंड के बीच पुणे के महाराष्ट्र क्रिकेट संघ स्टेडियम में खेले गए वनडे सीरीज के अंतिम मुकाबले में टीम इंडिया ने सात रनों से जीत दर्ज की. इसके साथ ही विराट सेना ने वनडे सीरीज भी अपने नाम की. भारत ने इससे पहले इंग्लैंड से चार मैचों की टेस्ट सीरीज 3-1 से और पांच मैचों की टी20 सीरीज 3-2 से जीती थी.

सात रनों से भारत ने जीता निर्णायक मुकाबला

भारत ने तीसरे और निर्णायक वनडे में टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करते हुए 48.2 ओवर में 329 रन बनाए थे. इसके जवाब में इंग्लिश टीम 50 ओवर में नौ विकेट पर 322 रन ही बना सकी. इंग्लैंड के लिए युवा ऑलराउंडर सैम कर्रन ने सबसे ज्यादा 95* रन बनाए. वहीं भारत के लिए शार्दुल ठाकुर ने सबसे ज्यादा चार विकेट झटके.

सैम कर्रन ने 83 गेंदो में नाबाद 95 रनों की अद्भुत पारी खेली. इस दौरान उनके बल्ले से 9 चौके और तीन छक्के निकले. सैम की इस जुझारू पारी के लिए उन्हें मैन ऑफ द मैच का अवार्ड भी मिला. वहीं सीरीज में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले जॉनी बेयरस्टो को मैन ऑफ द सीरीज का अवार्ड मिला. उन्होंने तीन मैचों में 73.00 की औसत और 120.33 के स्ट्राइक रेट से 219 रन बनाए.

बेहद रोमांचक रहा तीसरा वनडे

भारत और इंग्लैंड के बीच खेला गया यह मैच काफी रोमांचक रहा. टॉस हारने के बाद पहले बल्लेबाजी करने उतरी टीम इंडिया को रोहित शर्मा और शिखर धवन ने तूफानी शुरुआत दिलाई. एक समय ऐसा लग रहा था कि मानो आज भारत 400 रन बनाएगा, लेकिन तभी 15वें ओवर में 104 रनों के स्कोर पर भारत को पहला झटका लगा. रोहित शर्मा 37 रन बनाकर पवेलियन लौट गए. इसके बाद भारत ने 121 रनों पर अपने तीन अहम विकेट खो दिए.

इस बीच धवन (56 बॉल 67 रन) और विराट कोहली (07) भी पवेलियन लौट गए. अब ऐसा लगने लगा कि भारत मुश्किल से ही 270 से 280 रन बना पाएगा. लेकिन फिर ऋषभ पंत ने काउंटर अटैक किया. पंत ने 62 गेंदो में पांच चौको और चार छक्को की मदद से 78 रनों की पारी खेली. वहीं हार्दिक पांड्या ने भी कमाल की बल्लेबाजी की. उन्होंने 44 गेंदो में 64 रन बनाए. इस दौरान उनके बल्ले से पांच चौके और चार छक्के निकले.

इसके बाद अंत में शार्दुल ठाकुर ने तीन छक्कों की मदद से 21 बॉल में 30 रनों की महत्वपूर्ण पारी खेलकर टीम का स्कोर 300 के पार पहुंचा दिया. भारत की पारी 48.2 ओवर में 329 रनों पर सिमट गई.

फ्लॉप रहे रॉय और बेयरस्टो

भारत से मिले 330 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी इंग्लिश टीम को जेसन रॉय ने तेज शुरुआत दिलाने की कोशिश की. उन्होंने भुवनेश्वर कुमार की पहली पांच गेंदो में ही 14 रन बना डाले, लेकिन अंतिम गेंद पर वह बोल्ड हो गए. इसके बाद शानदार फॉर्म में चल रहे जॉनी बेयरस्टो भी एक रन बनाकर चलते बने. देखते ही देखते इंग्लैंड ने 95 रनों पर अपने चार विकेट गवां दिए.

इस दौरान बेन स्टोक्स (35) और जोस बटलर (15) भी पवेलियन लौट गए. अब जिम्मेदारी लेनी थी डेविड मलान और लियाम लिविंगस्टोन को. इन दोनो ने पांचवें विकेट के लिए 60 रन जोड़े. लेकिन फिर दोनों आउट हो गए. मलान ने 50 और लिविंगस्टोन ने 36 रन बनाए.

फिर क्या था इंग्लैंड ने 200 रनों पर अपने सात विकेट गवां दिए. लेकिन आज दिन था सैम कर्रन का. सैम ने पहले आदिल रशीद (19) के साथ आठवें विकेट के लिए 57 रन जोड़े और फिर मार्क वुड (14) के साथ 9वें विकेट के लिए 60 रनों की साझेदारी की.

इंग्लैंड को अंतिम तीन ओवर में बनाने थे 23 रन

एक समय ऐसा लगने लगा कि मानो कर्रन आसानी से इंग्लैंड को जीत दिला देंगे. इंग्लैंड को अंतिम तीन ओवर में जीत के लिए 23 रन बनाने थे. लेकिन इसके बाद भुवी ने 48वां और हार्दिक ने 49वां ओवर बेहद किफायती फेंका. इस बीच मार्क वुड का विकेट भी मिला. अंतिम ओवर में इंग्लैंड को जीत के लिए 14 रन बनाने थे और कोहली ने गेंद सौंपी टी नटराजन को. नटराजन ने कैप्टन को निराश नहीं किया और सात रनों से टीम को जीत दिला दी.

यह भी पढ़ें- 

IND vs ENG: हार के बाद जोस बटलर ने दिया दिल को छू लेना वाला बयान, जानिए क्या कहा है

AuthenticCapitalstore

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *