IND vs ENG: हार के बाद विराट कोहली ने बताया- क्यों नहीं करवाई हार्दिक पांड्या से गेंदबाजी

India vs England 2nd ODI: पुणे में खेले गए दूसरे वनडे में भारतीय टीम को हार का सामना करना पड़ा. टीम इंडिया ने पहले खेलने के बाद इंग्लैंड के सामने 337 रनों का विशाल लक्ष्य रखा था, लेकिन जॉनी बेयरस्टो (124) और बेन स्टोक्स (99) की तेजतर्रार पारियों के सामने यह लक्ष्य बौना साबित हुआ. इंग्लैंड ने महज़ 43.3 ओवर में सिर्फ चार विकेट खोकर इस टारगेट का पीछा कर लिया. इंग्लैंड का वनडे क्रिकेट के इतिहास में यह सबसे बड़ा सफल रन चेज़ है.

इस मैच में भारतीय कप्तान विराट कोहली ने हार्दिक पांड्या से गेंदबाजी नहीं करवाई. इंग्लिश बल्लेबाज़ टीम इंडिया के सभी गेंदबाज़ों के खिलाफ आसानी से रन बना रहे थे, लेकिन इसके बावजूद कोहली ने हार्दिक को गेंद नहीं सौंपी. नतीजन भारत को शर्मनाक हार झेलनी पड़ी.

टी20 सीरीज में हार्दिक पांड्या ने कमाल की गेंदबाजी की थी. चौथे टी20 मुकाबले में उन्होंने अपने चार ओवर में सिर्फ 16 रन देकर दो विकेट चटकाए थे. ऐसे में दूसरे वनडे में उनको गेंदबाजी न देने पर सवाल उठ रहे हैं.

कोहली ने खोला हार्दिक से गेंदबाजी न करवाने का राज़

हालांकि, भारत की हार के बाद कोहली ने साफ किया कि उन्होंने क्यों हार्दिक पांड्या से गेंदबाजी नहीं करवाई. उन्होंने कहा, “हमें उनकी (हार्दिक) सही तरह से देखरेख करने की जरूरत है. यह जानना जरूरी है कि कहां हमें उनके कौन से कौशल की जरूरत है. टी20 में गेंदबाजी में उनका उपयोग किया गया, लेकिन वनडे में उनके कार्यभार को व्यवस्थित करना जरूरी है. हमें इंग्लैंड में टेस्ट मैच खेलने हैं और इसलिए उनका फिट रहना हमारे लिये महत्वपूर्ण है.”

कोहली ने स्वीकार की हार

कोहली ने कहा, “हमने इस मैच में शानदार हिटिंग देखी. स्टोक्स और बेयरस्टो ने बेहतरीन बैटिंग की. हमें इस साझेदारी के दौरान वापसी का मौका नहीं मिला. हम हार स्वीकार करते हैं. हम किसी तरह की बहानेबाजी नहीं कर सकते. हमने दो दिन पहले इसी तरह के स्कोर का बचाव किया था, लेकिन आज हम अपनी रणनीति को अमली जामा नहीं पहना सके.”

कोहली ने केएल राहुल और ऋषभ पंत की तारीफ की

कोहली ने शतक जड़ने वाले केएल राहुल और तूफानी पारी खेलने वाले ऋषभ पंत की जमकर तारीफ की. उन्होंने कहा, “हमने दो विकेट जल्दी गंवा दिए और हमें अच्छी साझेदारी की जरूरत थी. मैंने और राहुल ने ऐसा किया. मैं राहुल को लेकर बहुत खुश हूं. इसके बाद ऋषभ ने मैच का रुख बदल दिया. हम 300 रन तक पहुंचने की सोच रहे थे, लेकिन हम 35 अतिरिक्त रन बनाने में सफल रहे.”

यह भी पढ़ें- 

दो मैचों में छह विकेट लेने वाले प्रसिद्ध कृष्णा बोले- मुझे नई गेंद से प्रदर्शन सुधारने की जरूरत

AuthenticCapitalstore

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *