दिल्ली में दर्दनाक वारदात, तांत्रिक के चक्कर में तीन साल के मासूम की कर दी हत्या

नई दिल्ली: देश की राजधानी में एक दर्दनाक घटना को अंजाम दिया गया है. बच्चे की चाह और अंधविश्वास के चक्कर में एक महिला ने ऐसी घिनौनी हरकत कर दी कि उसकी करतूत सुनने के बाद रूह कांप जाए. एक तांत्रिक के बहकावे में आकर उसने अपने पड़ोस में रहने वाले एक तीन साल के बच्चे की हत्या कर दी.

पहले बच्चे का अपहरण किया और फिर उसे मौत के घाट उतार दिया. यही नहीं उसके बाद शव को बोरे में फेंक कर उसे छत पर फेंक दिया. आरोपी महिला का नाम नीलम बताया गया है. उसे गिरफ्तार कर लिया गया है. साथ ही अब उस तांत्रिक की तलाश भी हो रही है जिसने इस वारदात को अंजाम देने की सलाह दी थी.

वारदात रोहिणी इलाके के बुद्ध विहार की है. यहां यूपी के हरदोई निवासी दयाराम गली नंबर 15 में रह रहे थे. वो सब्जी के कारोबारी हैं. उन्हीं का बेटा था तीन साल का पीयूष. शनिवार को उनके पास सूचना पहुंची कि उनका बेटा लापता है और घर से सभी लोग खोजने में लगे हैं.

वह आनन फानन में घर पहुंचे और बेटे की तलाश करने लगे. पड़ोस से लेकर आसपास के इलाकों तक बच्चे की तलाश हुई. लेकिन, इस बारे में कोई सूचना नहीं मिली. फिर पुलिस को सूचना दी गई और पुलिस ने वहां लगे सीसीटीवी फूटेज को देखना शुरू किया. इससे एक बात पता चली कि बिल्डिंग से बाहर वह आया ही नहीं.

काफी देरतक तलाशी चलती रही और फिर पांच मंजिला मकान की छत पर पुलिस को एक बोरा मिला. जिसमें बच्चे का शव पड़ा हुआ था. उसकी शिनाख्त बच्चे के रूप में हुई. मकान के सभी कमरों की तलाशी इसके बाद पुलिस अधिकारियों ने की. नीलम के मकान से पुलिस के पूजा-पाठ का काफी सामान मिला.

पुलिस को शक हुआ और सख्त पूछताछ की गई. उसमें पता चला कि उनकी शादी सन 2013 में हुई थी लेकिन कोई संतान नहीं थी. इसीलिए उसने किसी तांत्रिक से बलि के बारे में सलाह ली थी. पुलिस महिला के पति और देवर की भूमिका की जांच भी कर रही है. इस घटना के बाद पूरे इलाके में लोग दहशत में हैं.

यह भी पढ़ें: 

पश्चिम बंगाल: चुनावी माहौल में पुलिस को बड़ी सफलता, 4 किलो कोकीन संग तस्कर गिरफ्तार

ट्रेनें अभी नियमित भी नहीं हुईं लेकिन सक्रिय हो गया ‘नशाखुरान’ गिरोह

AuthenticCapitalstore

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *