ट्रेनें अभी नियमित भी नहीं हुईं लेकिन सक्रिय हो गया ‘नशाखुरान’ गिरोह

मुंबई: लॉकडाउन के बाद अभी ट्रेनों का संचालन सुचारू भी नहीं हो पाया है लेकिन रेल से जुड़े अपराधी सक्रीय होने लगे हैं. बांद्रा रेलवे पुलिस ने ऐसे ही एक शख्स को गिरफ्तार किया है जो यात्रियों को नशाखुरानी का शिकार बनाया करता था.

चाय में वो नशीला पदार्थ मिलाकर सहयात्रियों को देता था. इसके बाद जब यात्री बेहोश हो जाते थे तो उनका सामान लेकर चंपत हो जाता था. मामला पुलिस के सामने तब आया जब दीपक शर्मा बांद्रा से बीकानेर जाने के लिए रवाना हुए. उन्हें भी इस शख्स ने शिकार बनाया.

आरोपी का नाम हामिद खान बताया गया है जो स्टेशन के वेटिंग रूम से ही दीपक के पीछे लग गया था. पहले उसने दीपक से बातचीत शुरू की और फिर धीरे-धीरे काफी घुलमिल गया. बातचीत होने के बाद उसने दीपक को चाय का ऑफर दिया.

इसके बाद उसने अपनी कारस्तानी को अंजाम दिया. फिर जब जीआरपी की टीम सामान्य पेट्रोलिंग कर रही थी तो उनकी नजर बेहोश दीपक पर पड़ी. उन्हें तुरंत ही अस्पताल पहुंचाया गया. इन सबसे पहले उनका सारा सामान लेकर आरोपी पहले ही फरार हो चुका था.

जब दीपक को होश आया तो उन्होंने पूरी जानकारी पुलिस को बताई. यह जानकर अधिकारियों के होश उड़ गए. पुलिस ने जांच शुरू की और सीसीटीवी फूटेज खंगालने लगी. फूटेज में खान की पहचान हो गई और पाया गया कि वह कुर्ला में है.

पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया और उसके ठिकानों की तलाशी भी हुई. इस दौरान पुलिस को 13 मोबाइल फोन बरामद हुए. इसके साथ ही कुछ अन्य कीमती सामान जो उसने अपराध के जरिए हासिल किए थे, भी बरामद किए गए.

वह वेटिंग रूम में ही शिकार तलाशता था और फिर दोस्ती करके उन्हें चाय पिला देता था. गौरतलब है कि इस नशाखुरानी गिरोह के शिकार व्यक्ति की जान भी जा सकती है. क्योंकि ये काफी कड़े डोज का इस्तेमाल करते हैं जिससे शिकार यात्री तुरंत बेहोश हो जाए.

पुलिस ने बताया है कि आरोपी ने कई यात्रियों को शिकार बनाया है और उससे पूछताछ की जा रही है. अक्सर ऐसे लोग गिरोह बनाकर काम करते हैं ऐसे में पुलिस को इस बात की छानबीन भी करनी चाहिए कि क्या इसके साथ कोई गिरोह भी सक्रिय है ?

यह भी पढ़ें: 

महिला-पुरुष ने एक साथ ही की आत्महत्या, शादीशुदा होने के बावजूद थे संबंध

बुजुर्ग महिला पर थूक रहा था बेटा, छोटे भाई ने वीडियो बनाकर पुलिस को दिखाया

AuthenticCapitalstore

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *