आपका मोबाइल फोन Hackers से नहीं है सुरक्षित, अब नए हमले के तहत कर रहे SMS और OTP चोरी

अगर आपको लगता है कि आपका मोबाइल फोन हैकर्स से सुरक्षित है तो ऐसा बिल्कुल नहीं है क्योंकि हैकर्स नए-नए तरीके इस्तेमाल कर हमले कर रहे हैं. ऐसे ही एक नए हमले का पता चला है जहां हैकर्स किसी के फोन नंबर से एसएमएस को रिडायरेक्ट कर अपने सिस्टम में कर लेते हैं. हैकर्स टेक्स्ट-मैसेजिंग मैनेजमेंट सर्विसेस का व्यापार के लिए  हमले में इस्तेमाल कर सकते हैं.  इसलिए, एक तरह से, ये हमले दूरसंचार उद्योग की लापरवाही के कारण संभव हैं. हमले का उपयोग करते हुए, हैकर्स जरूरी टैक्सड मैसेजेस को रिडायरेक्ट जैसे कि ओटीपी या व्हाट्सएप जैसी सेवाओं के लिए लॉगिन लिंक.

हैकर आसानी से एसएमएस को रीडायरेक्ट कर सकता है

मदरबोर्ड के रिपोर्टर जोसेफ कॉक्स के निजी नंबर पर किसी हैकर ने हमले को अंजाम दिया था. रिपोर्ट के मुताबिक, हैकर आसानी से अपने मोबाइल नंबर पर आने वाले एसएमएस और डेटा को इंटरसेप्ट करने वाले एसएमएस को आसानी से रीडायरेक्ट कर सकता है. यहां पीड़ित, कॉक्स को भी नहीं पता होगा कि इस तरह के हमले से उसे निशाना बनाया गया है, इस वजह से उसके एसएमएस फ़ोन में नही आ रहे हैं. जिम्मेदार सेवाओं में शोषण इतना बड़ा है कि सेवाएं प्रदान करने वाली कंपनियां अनुमति पूछने के लिए टारगेटेड संख्या में कोई एसएमएस नहीं भेजती हैं या केवल मालिक को सूचित करती हैं कि टैक्सड फॉरवर्ड किया गया है. ये एक मूर्खतापूर्ण हमला है.

हैकर सिर्फ 16 डॉलर की पेमेंट कर सर्विस तक पहुंच जाता है

इस हमले में सबसे अजीब बात यह है कि हैकर सिर्फ 16 डॉलर (लगभग 1,190 रुपये) का भुगतान करके सेवाओं तक पहुंच जाता हैं. ये बेहद मामूली शुल्क है जो ज्यादातर प्रोवाइडर्स बिजनेस की पेमेंट करने के लिए एसएमएस रिडायरेक्ट सेवाओं के लिए पूछते हैं. हैकर नहीं. कॉक्स के मामले में इन सेवाओं को प्रदान करने वाली कंपनी ने दावा किया है कि उसने गड़बड़ी को ठीक कर दिया है, लेकिन कई अन्य हैं जो नहीं हैं. इन कंपनियों में से कुछ को हैकर्स के इस तरह के हमले के बारे में जानकारी भी है, बावजूद इसके वे अमेरिका में वायरलेस इंडस्ट्री के लिए व्यापार संगठन सीटीआईए को दोषी ठहराते हैं.

 हालांकि सीटीआईए ने मदरबोर्ड को बताया कि उसके पास “किसी भी दुर्भावनापूर्ण गतिविधि का कोई संकेत नहीं था जिसमें संभावित खतरा शामिल था या यह कि किसी भी ग्राहक को प्रभावित किया गया था.”

एसएमएस रिडायरेक्शन होने पर पीड़ितो को कुछ पता नहीं चलता है

नया एसएमएस रिडायरेक्शन अटैक हैकिंग एक्टिविटिज की सीरीज में एक और नया हमला है जिसमें एसएमएस और सेलुलर सिस्टम शामिल हैं. बड़ी संख्या में यूजर्स को प्रभावित करते हुए सिम स्वैपिंग और एसएस 7 हमले काफी समय से होते रहे हैं. हालांकि, इन दो हमलों के बारे में सबसे अधिक ध्यान देने योग्य बात यह है कि पीड़ित को कुछ ही पलों में पता चल जाता है कि उसका फोन हैक हो गया है क्योंकि फोन सेलुलर नेटवर्क को पूरी तरह से खो देता है. लेकिन एसएमएस रिडायरेक्शन के मामले में ऐसा बिल्कुल नहीं है. यहां पीड़ित को पता ही नहीं चलता कि ऐसी एक्टिविटी हो रही है.

ये भी पढ़ें

Redmi note 10 को पहली बार सेल में खरीदने का मिल रहा मौका, ऑफर्स का ऐसे उठाएं फायदा

AuthenticCapitalstore

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *