IND vs ENG: विराट कोहली ने आर अश्विन को ‘मॉडर्न लीजेंड’ करार दिया

IND vs ENG 3rd Test: मोटेरा में खेले गए तीसरे टेस्ट में भारत ने दूसरे दिन ही इंग्लैंड को 10 विकेट से हरा दिया. इस जीत के साथ ही भारत ने चार मैचों की टेस्ट सीरीज में 2-1 की अजेय बढ़त बना ली है. इंग्लैंड ने दूसरी पारी में भारत को 49 रनों का लक्ष्य दिया था, जिसे इंडिया ने सिर्फ 7.4 ओवर में बिना कोई विकेट खोए हासिल कर लिया. इस जीत के बाद कप्तान विराट कोहली ने ऑफ स्पिनर आर अश्विन की जमकर तारीफ की और उन्हें ‘मॉडर्न लीजेंड’ करार दिया.

विराट कोहली ने मैच के बाद कहा, “अश्विन ने जो योगदान दिया है उस पर हम सभी को खड़े होने और गर्व करने की जरूरत है. मैंने उससे कहा कि मैं उन्हें आज से लीजेंड कहूंगा. वह एक मॉडर्न लीजेंड हैं.”

अश्विन ने पूरे किए 400 टेस्ट विकेट

मोटेरा टेस्ट में सात विकेट लेने वाले रविचंद्रन अश्विन टेस्ट क्रिकेट में 400 विकेट लेने वाले चौथे भारतीय गेंदबाज बन गए हैं. अश्विन ने साथ ही श्रीलंका के पूर्व स्पिनर मुथैया मुरलीधरन के बाद सबसे तेजी से 400 विकेट लिए हैं. अश्विन ने इंग्लैंड के बल्लेबाज जोफ्रा आर्चर को एलबीडब्ल्यू आउट करके टेस्ट क्रिकेट में अपने 400 विकेट पूरे किए. अश्विन से पहले कपिल देव, अनिल कुंबले और हरभजन सिंह भारत के लिए टेस्ट क्रिकेट में 400 विकेट ले चुके हैं. कुंबले के नाम 132 टेस्ट मैचों में 619 विकेट, कपिल देव के नाम 131 टेस्ट मैचों में 343 विकेट और हरभजन सिंह के नाम 103 टेस्ट मैचों में 417 विकेट हैं.

दूसरे सबसे तेज 400 विकेट लेने वाले गेंदबाज बनें अश्विन

साथ ही अश्विन विश्व क्रिकेट में दूसरे सबसे तेज 400 विकेट लेने वाले गेंदबाज बन गए हैं. उन्होंने 77 मैचों में 25.01 की औसत और 2.83 के इकॉनमी रेट से टेस्ट मैच में 400 विकेट लिए हैं. उनसे आगे श्रीलंका के पूर्व स्पिनर मुथैया मुरलीधरन ही हैं, जिनके नाम सबसे तेजी से 400 विकेट लेने का रिकॉर्ड है. मुरलीधरन ने 2002 में गॉल में जिम्बाब्वे के खिलाफ 72वें टेस्ट में यह कीर्तिमान स्थापित किया था. उनके बाद न्यूजीलैंड के रिचर्ड हैडली 80 टेस्ट मैचों में और दक्षिण अफ्रीका के डेल स्टेन ने 80 टेस्ट मैचों में 400 विकेट लिया था.

यह भी पढ़ें- 

IND vs ENG 3rd Test: जीत के बाद विराट कोहली ने पिच को लेकर दिया बड़ा बयान, जानिए क्या कुछ कहा


AuthenticCapitalstore

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *